UP : एटा में तिलक की रस्म से लौट रहे परिवार की कैंटर ट्रॉली नहर में गिरी, 14 मरे, 28 घायल

0
69

उत्तर प्रदेश में एटा जिले के जलेसर थाना क्षेत्र के सराय नीम के पास आज तड़के टीका चढ़ाकर लौट रहे लोगों से भरी एक कैंटर ट्रॉली के पतली नहर में जा गिरने से उस पर सवार 14 लोगों की मौत हो गई, जबकि 28 अन्य घायल हो गए. मरने वाले लोग आगरा जनपद के एक ही परिवार के सदस्य हैं. पुलिस सूत्रों ने बताया कि आगरा जिले के डौकी थानाक्षेत्र के गांव नगरिया अहीर निवासी प्रेमसिंह की बेटी कल्पना का लग्न-टीका गुरवार को जलेसर के नगला लालसिंह निवासी सुरेश चंद्र के पुत्र राममिलन के लिए आया था. इस समारोह के लिए प्रेमसिंह के परिजन, रिश्तेदार व गांव के करीब 60 लोग गांव के ही एक व्यक्ति रवि के कैंटर से आए थे. उन्होंने बताया कि भोर करीब साढ़े तीन बजे जब सभी परिजन नगरिया अहीर लौट रहे थे, तभी जलेसर-आगरा मार्ग स्थित सराय नीम के पास तेज रफ्तार होने के चलते अंधे मोड़ पर यह कैंटर अनियन्त्रित होकर एक रजवाह में गिर गया.

इस दुर्घटना में 65 वर्षीय गिरन्दसिंह, 12 वर्षीय प्रशान्त, 21 वर्षीय लवकुश उर्फ कलुआ, 23 वर्षीय मुकेश, 25 वर्षीय नेत्रपाल, 50 वर्षीय पदमसिंह पुत्र शोभाराम, 19 वर्षीय ओमवीर, 50 वर्षीय शैतानसिंह, 40 वर्षीय पदमसिंह पुत्र अंगूरीलाल, 45 वर्षीय बनीसिंह, 60 वर्षीय राजेन्द्र, 22 वर्षीय विजय, 35 वर्षीय प्रवेन्द्र फौजी, 25 वर्षीय संजू की मौत हो गई.

इसके अलावा 20 वर्षीय रामरज, 19 वर्षीय सुरेन्द्र, 22 वर्षीय छोटू, 18 वर्षीय आकाश, 14 वर्षीय विजय, 22 वर्षीय धीरेन्द्र, 12 वर्षीय शिवम, 45 वर्षीय ताराचंद, 21 वर्षीय अमित, 19 वर्षीय विनय, 30 वर्षीय कंचन, 14 वर्षीय निरोती, 45 वर्षीय राकेश, 48 वर्षीय जनकसिंह, 30 वर्षीय जितेन्द्र, मातादीन, 12 वर्षीय विजय पुत्री जनकसिंह, 35 वर्षीय पिंटू, 45 वर्षीय श्रीकृष्ण, 30 वर्षीय रवि, 12 वर्षीय योगेन्द्र, व 14 वर्षीय दीपू के अलावा 6 अन्य लोग घायल हुए हैं.

दुर्घटना की सूचना पर जिलाधिकारी अमित किशोर तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनिरूद्घ सत्यार्थ पंकज मौके पर पहुंच गये हैं तथा युद्धस्तर पर बचावकार्य कराया जा रहा है. पंकज ने घटना में 14 लोगों के मरने की पुष्टि करते हुए बताया है कि 28 घायलों में 16 को गंभीर हालत में आगरा भेजा गया है.

वहीं जिलाधिकारी अमित किशोर ने बताया है कि मृतकों को पारिवारिक योजना का लाभ तत्काल दिलाए जाने के निर्देश दे दिए गए हैं. साथ ही शासन को मामले से अवगत करा दिया गया है. शासन स्तर से कोई राहत दिए जाने पर सूचित किया जाएगा. डीएम के अनुसार- वह कैंटर के कागजात की भी जांच करा रहे हैं कि यह मालवाहक लोडर गाड़ी किसकी अनुमति से सवारियां लेकर जा रही थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here