शिवसेना ने बीजेपी के विरोध में पुतले पर किया पेशाब, जारी किया फतवा

0
14

बीजेपी के प्रति अपने विरोध को बरकरार रखनेवाली शिवसेना ने अपने विरोध का स्तर बढ़ाने के बहाने गुरुवार को राजनीतिक शालीनता की सारी हदें पार कर दी. शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष रावसाहब दानवे का विरोध करने के लिए जो किया वो ओछी राजनीति के अलावा और कुछ नहीं कहा जा सकता. बुधवार को रावसाहब दानवे की जुबान फिसली. उन्होंने अरहर की सरकारी खरीद पर पूछे सवाल के जवाब में अपशब्द बोल दिए. दानवे के बयान की किसान विरोधी कहकर भर्त्‍सना करने के लिए विरोध प्रदर्शनों का जैसे राज्य में सिलसिला महाराष्ट्र में चल पड़ा. इस होड़ में आगे रहने की कोशिश में शिवसेना के कार्यकर्ता भूल गए कि उनकी पार्टी राज्य में बीजेपी के साथ सत्ता में बैठी है.

राज्य में अनेकों जगहों पर शिवसैनिकों ने दानवे के पुतले फूंके, उसे जूतों की माला पहनाई. लेकिन, हद तो कर दी अहमदनगर के शिवसैनिकों ने. शहर में आयोजित प्रदर्शन को और उग्र बनाने के लिए एक कार्यकर्ता ने बेशर्मी से दानवे की तस्वीर पर खुलेआम पेशाब कर दिया. तब बाकी सभी शिवसैनिक वहां मौजूद हो कर नारेबाज़ी कर रहे थे.

यही क्या कम था कि यवतमाल के शिवसेना ज़िलाप्रमुख संतोष ढवले ने रावसाहब दानवे की जीभ छांट कर लानेवाले को 10 लाख रुपये के ईनाम का फ़तवा जारी किया है. इस से पहले उन्होंने  दानवे की तस्वीर को गधे पर रख घुमवाया.

इस बीच डोंबिवली के शिवसेना शहर प्रमुख भाऊ चौधरी ने रावसाहब दानवे का मुंह काला करने के आदेश दिए थे. जवाब में भाऊ चौधरी के मुंह पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने ही कालिख पोत दी. जिसके बाद शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बीजेपी दफ़्तर पर जमकर पत्थरबाज़ी की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here