आयकर विभाग ने बेनामी संपत्तियों को लेकर लालू परिवार पर की कार्रवाई

0
22

आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति मामले में लालू प्रसाद यादव के परिवार के छह सदस्यों पर बेनामी एक्ट के तहत कार्रवाई की है. छह सदस्यों में बिहार सरकार में मंत्री तेजस्वी यादवऔर लालू की बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती के खिलाफ, लालू की पत्नी राबड़ी देवी शामिल हैं.
_______________________________________

 आयकर विभाग ने लालू की पत्नी राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी यादव, बेटी मीसा भारती और उनके पति शैलेष, बेटी रागिनी और बेटी चंदा की प्रॉपर्टी जब्त का नोटिस जारी किया है. जब्त संपत्ति में दिल्ली के जमीन, प्लॉट और भवन तथा पटना की 9.32 करोड़ की कीमत वाली जमीन शामिल है. हालांकि वर्तमान बाजार रेट के अनुसार आयकर अधिकारी इसकी कीमत 170-180 करोड़ बता रहे हैं.    
 
अधिकारियों ने कहा कि विभाग ने बेनामी लेनदेन कानून, 1988 के तहत अस्थायी आदेश के जरिये दो संपत्तियों – दिल्ली में एक मकान और एक भूखंड की कुर्की की है. यह कानून पिछले साल 1 नवंबर से लागू हुआ था. अधिकारियों ने बताया कि ये संपत्ति बेनामी कब्जे में थीं. विभाग द्वारा पिछले महीने की गई छापेमारी के बाद यह कार्रवाई की गई है. कुर्क संपत्ति के मूल्य का तत्काल पता नहीं चल पाया है. बेनामी संपत्ति में लाभार्थी वह व्यक्ति नहीं होता, जिसके नाम से संपत्ति खरीदी गई है.

अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में कुछ और संपत्तियों को कुर्क किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि वे इस मामले में लालू की सांसद पुत्री मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार से पूछताछ करना चाहते हैं. भारती और उनके पति पूर्व में आयकर विभाग के समन पर पेश नहीं हुए थे.

इस मामले में भारती और अन्य लोगों से जुड़े चार्टर्ड अकाउंटेंट राजेश कुमार अग्रवाल को प्रवर्तन निदेशालय ने 22 मई को गिरफ्तार किया था. अधिकारियों ने कहा कि भारती और कुमार को जारी समन इस मामले में जांच का हिस्सा है. विभाग उनका बयान दर्ज करना चाहता है. कर अधिकारियों ने कहा था कि मीसा ने कुछ संपत्तियां बेनामी तरीके से रखी हैं, जो जांच के घेरे में हैं. उधर, लालू यादव ने इसे बीजेपी की बदले की कार्रवाई करार दिया है.  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here