सुदर्शन न्यूज़ के संपादक सुरेश चव्हाण गिरफ़्तार, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने और अफ़वाहें फैलाने के आरोप में हुई गिरफ्तारी

0
33

उत्तर प्रदेश पुलिस ने सुदर्शन न्यूज़ के संपादक और सीएमडी सुरेश चव्हाणके को लखनऊ एयरपोर्ट से गिरफ़्तार किया है.
सुरेश चव्हाणके पर संभल में कई धाराओं के तहत मामला दर्ज है.

संभल के पुलिस अधीक्षक रवि शंकर छवि ने बीबीसी से चव्हाणके की गिरफ़्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि उन पर संभल में भारतीय दंड संहिता की धारा 153ए, 259ए और 505 (1ए) के तहत मामला दर्ज है.पुलिस के मुताबिक सुरेश चव्हाणके पर समुदायों के बीच नफ़रत फैलाने, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने और अफ़वाहें फैलाने के आरोप हैं.

सुरेश चव्हाणके पर संभल को लेकर भ्रामक रिपोर्टिंग करने के आरोप हैं.पुलिस अधीक्षक के मुताबिक इसी मामले में उनकी गिरफ़्तारी हुई है.अपनी गिरफ़्तारी पर प्रतिक्रिया देते हुए सुरेश चव्हाणके ने बीबीसी से कहा, “मुझ पर निराधार एफ़आईआर दर्ज की गई है.

सुरेश चव्हाणके पर आरोप है कि उन्होंने अपने चैनल पर सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने वाली ख़बरें प्रसारित की हैं.
जब उनसे पूछा गया कि योगी आदित्यनाथ की सरकार में अपनी गिरफ़्तारी को वो कैसे देखते हैं तो उन्होंने कहा,योगी जी को मेरी गिरफ़्तारी के बारे में जानकारी ही नहीं होगी.

सुरेश चव्हाणके ने 13 अप्रैल को संभल के एक धर्मस्थल में जल चढ़ाने का एलान किया था जिसके बाद एक स्थानीय कांग्रेसी नेता इतारत हुसैन बाबर ने चव्हाणके के संभल पहुंचने की स्थिति में उन पर हमला करने की धमकी दी थी.
पुलिस ने ख़ुद को शहर की जामा मस्जिद का इमाम बताने वाले बाबर को भी एफ़आईआर में नामजद किया है.एक स्थानीय भाजपा नेता का नाम भी एफ़आईआर में है.शहर में तनाव के मद्देनज़र भारी पुलिस बल तैनात किए गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here