आजम खान के साथ पिता मुलायम सिंह से मिले अखिलेश यादव, लालू यादव ने कहा- ‘एकजुट रहिए नेताजी’

0
14

अखिलेश की बैठक में 198 विधायक और 34 एमएलसी पहुंचे जबकि मुलायम सिंह की बैठक में सिर्फ 60 विधायक ही पहुंचे।

समाजवादी पार्टी में चल रही खींचतान के बीच सुलह की भी कोशिशें तेज हो गई हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता और कैबिनेट मंत्री आजम खान और अबु आजमी के साथ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपने पिता और पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव से मुलाकात करने पहुंचे हैं। माना जा रहा है कि आजम खान दोनों धड़ों के बीच सुलह की कोशिश कर रहे हैं। इससे पहले बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने फोन कर मुलायम सिंह यादव को एकजुट रहने की सलाह दी है। ताकि आगामी चुनावों में साम्प्रदायिक ताकतों को सत्ता से दूर रखा जा सके। इस बीच अबु आजमी ने कहा है कि नेताजी के साथ सब दलाल जमा हो गए हैं, जो उन्हें गलत राय दे रहे हैं।

इससे पहले दोनों धड़ों के समर्थक विधायकों की अलग-अलग बैठक हुई। अखिलेश की बैठक में 198 विधायक और 34 एमएलसी पहुंचे जबकि मुलायम सिंह की बैठक में सिर्फ 60 विधायक ही पहुंचे। उधर, सपा में पारिवारिक झगड़े की जड़ कहे जानेवाले अतीक अहमद ने भी कहा है कि नेताजी उनके नेता हैं लेकिन अखिलेश यादव ही उनकी पसंद हैं। यानी अखिलेश की अगुवाई में ही चुनाव लड़ना है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर उनकी वजह से परिवार और पार्टी में टूट हो रही है तो वह पीछे हटने को तैयार हैं।

सपा में में चल रही उठापटक के बीच राज्य सभा सांसद अमर सिंह ने शनिवार (31 दिसंबर) को कहा कि अखिलेश ने पार्टी की अवमानना की है और उसकी सजा के रूप में ही उन्हें पार्टी से निकाला गया है। अमर सिंह ने कहा कि उनका पूरा समर्थन मुलायम सिंह यादव के साथ है। अमर सिंह फिलहाल लंदन में हैं। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही वापस आएंगे। उन्होंने तंज कसा ‘आज तो कुछ ऐसा लग रहा है कि राम चंद्र कह गए सिया से ऐसा कलयुग आएगा, बेटा करेगा राज बेचारा बाप जंगल को जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here